31 जुलाई को सीएम नीतीश कर सकते हैं बड़ा ऐलान, हो सकती है इस साल की बड़ी घटना

बिहार में 31 जुलाई को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक बड़ा ऐलान कर सकते हैं. 31 जुलाई को इस साल की सबसे बड़ी घोषणा हो सकती है. यह घोषणा बिहार की मौजूदा हालत को देखते हुए की जाएगी. बता दें कि बिहार में कम वर्षा होने के वजह से सुखाड़ की स्थिति उतपन्न हो गयी है. जिसे देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्ष में रविवार को एक समीक्षा बैठक हुई. जिसमें सुखाड़ की स्थिति से निपटने से लेकर किसानों को सस्ती दरों पर डीजल, बिजली मुहैया कराने पर भी चर्चा की गई.

अब तक जो जानकारी मिल रही है उसके मुताबिक बिहार सरकार जल्द ही प्रदेश को सूखाग्रस्त घोषित कर सकती है. बैठक में सीएम नीतीश कुमार ने पदाधिकारियों से चर्चा करने के बाद कई अहम फैसले लिए. बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बैठक की जानकारी देते हुए बताया कि इस बार अभी तक औसत की तुलना में 48 फीसदी कम बारिश हुई है, जिससे राज्य में सुखाड़ की स्थिति बन रही है.

बिहार सरकार इस मसले पर 31 जुलाई को फिर बैठक करेगी जिसमें यह तय होगा कि किन जिलों को सूखाग्रस्त और बाढ़ग्रस्त घोषित किया जाए. मुख्य सचिव के मुताबिक सूखे की स्थिति से निपटने के लिये सरकार उपाय कर रही है. इस कड़ी में कृषि अधिकारियों को गांवों में जाकर किसानों से मुलाकात करने के निर्देश दिए गए हैं साथ ही 28 जुलाई तक बिहार के सभी प्रखंडों में वैकल्पिक बीज उपलब्ध कराने का आदेश दिया गया है. सरकार ने मानसून की बेरूखी को देखते हुए किसानों को तत्काल राहत देते हुए डीजल में 50 रुपए प्रति लीटर का अनुदान दिया है. जबकि खेतों को पटाने के लिए 18 से 20 घंटे बिजली दिन जाने का निर्देश भी दिया गया. बैठक के दौरान किसानों को बिजली दर में ही रियायत दी जाने की बात कही गयी. इसलिए अब किसानों प्रति यूनिट 96 पैसे के बजाय अब 75 पैसे प्रति यूनिट बिजली कर देनी होगी.

Bitnami