सिवान में गंडक नहर का टूटा बांध, गांव में घुसा पानी, मचा हाहाकार

मैरवा प्रखंड की बभनौली पंचायत के चुपचुपवा गांव में रविवार की देर शाम गंडक नहर का बांध टूट गया. बांध टूटने से गांव में काफी तेज रफ्तार से पानी घुसने लगा. इससे ग्रामीणों में अफरातफरी मच गयी.

 

गांव में पानी फैलते ही ग्रामीणों ने गंडक विभाग में संपर्क किया, लेकिन किसी से बात नहीं हुई. इससे ग्रामीणों में दहशत का माहौल बना हुआ है. चुपचुपवा गांव में काफी तेज रफ्तार से पानी का बहाव होने से ग्रामीण गंडक कर्मियों के प्रति काफी नाराजगी है. फिलहाल नहर का पानी काफी तेज रफ्तार से गांव में प्रवेश कर रहा है.

कोसी नदी के जल स्तर में वृद्धि, गांव में फैला पानी

किसनपुर (सुपौल) : कोसी नदी के जल स्तर में वृद्धि से बौरहा पंचायत के अड़हा गांव में नदी का पानी फैल गया है. लोगों के घरों में पानी भी प्रवेश करने लगा है. रविवार को कोसी बराज पर बाढ़ काल अवधि के अब तक सबसे अधिक डिस्चार्ज दो लाख 24 हजार 80 क्यूसेक दर्ज किया गया है, जो बढ़ने के क्रम में है. कोसी नदी में जल स्तर में बढ़ोतरी के साथ ही इन गांवों के लोगों की मुश्किलें बढ़ने लगी हैं.

 

चोर के डर से लोग घर को छोड़ने को भी तैयार नहीं हो रहे हैं. वहीं कीमती सामान एवं पशु को ऊंचे स्थानों पर लोगों के द्वारा ले जाया जा रहा है. इसी क्रम में ऊंचे स्थानों पर लोगों द्वारा ले जाया रहा ट्रैक्टर गहरे पानी में फंस गया, जिसे भारी मशक्कत के बाद पानी से निकाला जा सका.
कई गांव कोसी के निशाने पर लगातार हो रहा कटाव

 

सहरसा : कोसी नदी का जल स्तर बढ़ते ही पूर्वी कोसी तटबंध के कछार पर बसे कई गांवों पर खतरा मंडराने लगा है. सलखुआ अंचल के बगेबा, टेंगराहा, परमानपुर गांव मेंं कोसी नदी का कटाव शुरू हो गया है. विभाग द्वारा सिर्फ बगेबा गांव के दो स्थानों पर मामूली ढंग से निरोधात्मक कार्य कर छोड़ दिया गया है.

 

कोसी तटबंध कोपरिया डिवीजन के कार्यपालक अभियंता रमेश साह ने बताया कि बगेबा गांव के दो स्थानों पर कटाव शुरू होते ही बचाव कार्य कर दिया गया. फिलहाल कोसी नदी से कोई खतरा नहीं है. अगर कटाव शुरू होता है तो बचाव कार्य किया जायेगा.

Bitnami