अभी अभी जदयू को बीजेपी ने दिया बड़ा झटका, खारिज किया CM नीतीश के चुनावी सपने को

अभी अभी सामने आई एक बड़ी खबर के अनुसार 2019 के चुनाव को देखते हुए सीट बंटवारे को लेकर जदयू ने बीजेपी को दो फॉर्मूले सुझाए जिसे बीजेपी ने खारिज कर दिए. बीजेपी को जदयू के वो दो फॉर्मूले सही नहीं लगे. मीडिया रिपोर्ट के के अनुसार इस संबंध में जदयू नेता आरसीपी सिंह और ललन सिंह ने बीजेपी के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव से दिल्ली में मुलाकात की थी. लेकिन जदयू के लिए ये मुलाकात बेकार साबित हुई.

इस दौरान जेडीयू की तरफ से कहा गया कि एनडीए के दो घटक दलों को कितनी सीटें दी जाए ये तय हो जाए, फिर बाकी सीटों पर बीजेपी और जेडीयू आपस में बराबर बराबर बांट ले. दूसरा फार्मूला ये दिया कि जेडीयू 21 सीटों पर लड़े और 19 सीटों पर बीजेपी अपने दोनों सहयोगी पार्टियों के साथ लड़े. लेकिन खबर ये है कि इस दोनों फॉर्मूले को फिलहाल दरकिनार कर दिया गया है.

जेडीयू के तर्क के मुताबिक बिहार में जेडीयू का बीजेपी के साथ गठबंधन हुआ है इसलिए बाकी दलों के लिए बीजेपी जगह बनाए. क्योंकि जेडीयू बिहार में बड़ी पार्टी है और पहले 25 सीटों पर लड़ती रही है ऐसे में उसका सबसे बड़ा शेयर तो बनता ही है. पर बीजेपी ने इस फॉर्मूले को एक सिरे से खारिज कर दिया है.

इधर बीजेपी ऐसा मानती है कि NDA में बीजेपी के साथ बिहार में दो सहयोगी दल पहले से ही है, दोनों दल भी महत्वपूर्ण है, इनकी सीटों को कम करने का कोई आधार ही नहीं बनता है. उनकी दावेदारी को भी कम नहीं किया जा सकता है. बता दें कि दोनों दल रामविलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी और उपेंद्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोक समता पार्टी है. मालूम हो कि ये दोनों नेता केंद्रीय मंत्री भी हैं.

Bitnami