लोन के पैसे कलेक्शन कर लौट रहे फाइनांस कंपनी के कर्मचारी से शुक्रवार की दोपहर अपराधी ने 32 हजार चार सौ रुपये लूट लिए। वारदात नवगछिया थाना क्षेत्र के पकरा मिडिल स्कूल के पास 14 नवंबर सड़क पर हुई। पीड़ित कर्मचारी और लोगों के शोर मचाने पर उधर से गुजर रही नवगछिया थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। पुलिस ने पीड़ित ईएसएएफ स्मॉल फाइनांस कर्मी जगदीशपुर थाना के रूपौली निवासी अरुण कुमार सिंह से जानकारी ली। इसके बाद पुलिस ने दो घंटे बाद करीब 3:30 बजे नवगछिया व्यवहार न्यायालय के पास से अपराधी को लूट की राशि के साथ दबोच लिया। पकड़े गए लुटेरे की पहचान गोपालपुर थाना के सिंघिया मकंदपुर के सौरभ कुमार उर्फ चीकू के रूप में हुई है।

पुलिस ने उसके पास से एक टैब व अन्य सामान भी बरामद किया है। इसके अलावा घटना में प्रयोग किए गए मोटरसाइकिल भी जब्त किया है। गिरफ्तार लुटेरे सौरभ कुमार से नवगछिया एसपी निधि रानी ने भी पूछताछ की। पूछताछ में सौरभ ने हाल के दिनों में हुई लूट की घटना के संदर्भ में कई राज पुलिस के समक्ष खोले हैं। थानाध्यक्ष ने बताया कि कार्रवाई के दौरान पीड़ित के निशान देही पर लूट की घटना को अंजाम देने वाले आरोपी सिंधिया मकनपुर निवासी सौरव कुमार को गिरफ्तार किया।

लोन की राशि कलेक्शन कर दयालपुर जा रहा था अरुण

पीड़ित ईएसएएफ स्मॉल फाइनांस बैंक कर्मी अरुण कुमार सिंह ने बताया कि शुक्रवार की दोपहर वह गोपालपुर के गोसाईंगांव से लोन के 32 हजार चार सौ रुपये कलेक्शन कर बाइक से बिहपुर के दयालपुर जा रहा था। इसी बीच पकरा मिडिल स्कूल के पास 14 नवंबर सड़क पर मेरी बाइक को ओवरटेक कर अपराधी ने गिरा दिया। इसके बाद वह बाइक से उतरा और मारपीट करते हुए बैग में रखे रुपए और टैब लूट कर फरार हो गया। हल्ला करने पर वहां लोग जमा हो गए तब तक पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी। पुलिस को मैंने घटना की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ने उक्त कार्रवाई की।
इनपुट: DBC