Aug 18, 2019
56 Views
Comments Off on बड़ी खुशखबरी : बिहार को बड़ा तोहफा पहला 7 स्टार होटल और लॉटरी से बटेंगे ये 828 फ्लैट
0 0

बड़ी खुशखबरी : बिहार को बड़ा तोहफा पहला 7 स्टार होटल और लॉटरी से बटेंगे ये 828 फ्लैट

Written by

पटना : पटना सिटी के बाहरी बेगमपुर स्थित जगदेव पार्क के पास 5.7 एकड़ और मंगल तालाब के पास 28.82 एकड़ भूखंड है. बेगमपुर स्थित भूखंड पर 828 किफायती फ्लैट और मंगल तालाब के पास आवासीय सह व्यावसायिक फ्लैट और सेवन स्टार होटल बनाया जायेगा।  मंगल तालाब के समीप 900 फ्लैट बनाये जायेंगे. यह निर्णय बुधवार को मेयर सीता साहू की अध्यक्षता में आयोजित स्थायी समिति की बैठक में लिया गया।

बैठक में नगर आयुक्त अनुपम कुमार सुमन ने किफायती फ्लैट के साथ-साथ आवासीय सह व्यावसायिक कॉम्प्लेक्स बनाने से संबंधित प्रस्ताव प्रस्तुत किया. नगर आयुक्त के प्रस्ताव पर स्थायी समिति ने मुहर लगाते हुए निर्देश दिया कि अगली बोर्ड की बैठक में एजेंडा रखें। नगर आयुक्त ने बताया कि बाहरी बेगमपुर में 5.7 एकड़ भूखंड है. इसके 25 प्रतिशत हिस्से में निर्माण होगा. इसके जी प्लस पांच तल्ले भवन में 828 फ्लैट होंगे. एक फ्लैट की लागत 11.30 लाख रुपये आंकी गयी है. वहीं, शेष 75 प्रतिशत भूखंड को सड़क, फुटपाथ और पार्क के रूप में विकसित किया जायेगा. इस योजना पर 93.49 करोड़ रुपये खर्च आयेगा।

इस राशि की व्यवस्था प्रधानमंत्री आवास योजना, हुडको व निगम के आंतरिक स्रोतों से की जायेगी. फ्लैट बनने के बाद शहरी गरीबों को लॉटरी के माध्यम से आवंटन किया जायेगा। मंगल तालाब के समीप निगम का 28.82 एकड़ भूखंड है, जिसमें 10 एकड़ में मंगल तालाब फैला है. बाकी 18.82 एकड़ में 25 मंजिली इमारत बनायी जायेगी, जिसमें 900 फ्लैट होंगे। इसके साथ ही शॉपिंग कॉम्प्लेक्स और सेवन स्टार होटल बनाये जायेंगे. स्कूल, स्टेडियम और मंगल तालाब का भी सौंदर्यीकरण होगा. आवासीय और शॉपिंग कॉम्प्लेक्स की योजना पर 1438 करोड़ रुपये खर्च होंगे. इस राशि की व्यवस्था बैंक ऋण और निगम बांड से होगी. वहीं, सेवन स्टार होटल को पीपीपी मोड से पूरा किया जायेगा. इन फ्लैटों को बिहार के साथ ही बिहार के बाहर और एनआरआइ भी खरीद सकेंगे।

मेयर को 12 हजार, डिप्टी मेयर को 10 हजार और पार्षदों को 2.5 हजार रुपया मासिक पारिश्रमिक व भत्ते मिल रहे हैं, जो काफी कम है. बैठक में मेयर, डिप्टी मेयर, स्थायी समिति सदस्यों व पार्षदों के भत्ते से संबंधित प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया। प्रस्ताव के अनुसार मेयर को 50 हजार, डिप्टी मेयर को 40 हजार, स्थायी समिति सदस्यों को 35 हजार व पार्षदों को 30 हजार रुपये निर्धारित किये गये हैं. स्थायी समिति सदस्यों ने प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए कहा कि सरकार को प्रस्ताव भेजा जाये. पटना क्षेत्रीय विकास प्राधिकार के सेवानिवृत्त कर्मियों को भी निगम की तर्ज पर पेंशन की सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी.

सफाई मजदूरों की कमी से संबंधित प्रस्ताव को रखते हुए नगर आयुक्त ने कहा कि 500 की जनसंख्या पर एक सफाई मजदूर की जरूरत है. इन अनुपात में एक हजार और सफाई कर्मियों की जरूरत है. इन मजदूरों की बहाली दैनिक मजदूर के रूप में की जायेगी।

इसमें अंचल स्तर पर 70-70 मजदूर सात श्रेणियों के टास्क फोर्स में काम करेंगे. इस प्रस्ताव को स्वीकृति देते हुए मेयर ने कार्यपालक पदाधिकारियों को निर्देश दें कि जनसंख्या की गणना कर मजदूरों की बहाली सुनिश्चित करें.

Article Categories:
Patna