बिहार में शराब के बाद अब इस चीज पर भी लगा बैन, सेवन होगा गैरकानूनी

बिहार में फिर एक बड़ा फैसला लेते हुए नशें से जुड़े एक और चीज पर बैन लगाय दिया गया है। इससे पहले जहां 1,अप्रैल 2016 से पूर्ण शराब बंदी लागू करके बिहार में शराब के उत्पादन, बिक्री और खरीददारी पर रोक लगा दिया गया था तो वहीं अब सरकार ने राज्य में ई-सिगरेट पर भी बैन लगा दिया है। राज्य में इसके निर्माण, वितरण, बिक्री, खरीद, प्रदर्शन और प्रचार पर भी रोक लगाया गया है।

यहां तक कि ई-सिगरेट के ऑनलाईन खरीददारी भी कानूनन अपराध होगी। दरअसल बिहार के राज्य दवा नियंत्रक (एसडीसी) रवींद्र कुमार सिंहा ने निर्देश जारी किया है कि राज्य में ई-सिगरेट बैन किया जाएगा। उन्होंने राज्य के सभी सहायक औषधि नियंत्रक (एडीसी) और ड्रग इंस्पेक्टर को अपने अपने इलाके में इस नियम का शख्ति से पालन करने का आदेश दिया है।

जानिए क्या है ई-सिगरेट

ई-सिगरेट एक ऐसा उपकरण है जिसे आज कल लोग खासकर युवा धूम्रपान के लिए प्रयोग करते हैं। यह सिगरेट आम सिगरेट जैसा नहीं होता है। यह एक बैटरी से चलने वाला उपकरण है जो निकोटीन या गैर-निकोटीन के तरल पदार्थ को वाष्पीकृत करता है। जिसका लोग धुम्रपान के लिए इस्तेमाल करते हैं। यह सिगरेट लम्बी ट्यूब के जैसा होता है, जबकि इसका बाहरी आकार असली धुम्र उत्पाद जैसे सिगरेट, सिगार और पाइप जैसा डिजाइन किया जाता है।

Bitnami