दो दिवसीय यात्रा पर दुबई पहुंचे कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने वहां एक कार्यक्रम में भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि इस समय भारत 3 बड़ी समस्या है, जिससे भारत जूझ रहा है. जिसमें पहली है बेरोजगारी, बदहाल किसान और असहिष्णुता. राहुल गांधी ने कहा कि लाखों युवाओं के सामने रोजगार के संकट से जुझ रहे है जिसका मुख्य कारण है नोटबंदी और जीएसटी. भारत में नोटबंदी करने से लाखों लोगों का रोजगार छिन गया और वह बेरोजगार हो गए. उन्होंने कहा की हम फ्रंट फुट पर रोजगार को रखना चाहते है जिस तरह चीन ने प्रोडक्शन बढ़ाकर बेरोजगारी की समस्या से निजात पाई है.

राहुल गांधी ने यह भी कहा कि आज देश की दूसरी सबसे बड़ी समस्या है किसान मुश्किल में हैं ऐसे में किसान संघर्ष कर रहा है, लेकिन उसे अपना भविष्य नहीं दिखाई दे रहा है.ऐसे में हमें एक और हरित क्रांति की जरूरत है जिससे किसानों की हालत में सुधार हो सके इसके लिए खेती में नई टेक्नॉलजी की जरूरत है. उन्होंने लोगों से कहा कि आपको पता ही होगा कि किसान कितनी समस्याओं से जूझ रहे हैं ऐसे में जब भारत का किसान सफल होगा तो भारत सफल होगा.

तीसरी समस्या राहुल गांधी ने देश में असहिष्णुता का माहौल को बताया, उन्होंने कहा की क्या आप ऐसे भारत की कल्पना कर सकते हैं जहां माना जाता हो कि एक ही विचार सही है और बाकी गलत हैं ऐसे में आज तीसरी समस्या भारत में असहिष्णुता है. इस समय भारत बंटा हुआ है, यह यहां का एनआरआई भी जानता है, धर्म, जाति, अमीर और गरीब में लोगों को बांटा जा रहा है. क्या कोई बंटी हुई क्रिकेट टीम विजय हासिल कर सकती है?ऐसे में जब बल्लेबाज बॉलर से बात न करें कैप्टन विकेटकीपर से बात न करें तो क्या टीम सफल हो पाएगी.