लोक जनशक्ति पार्टी प्रमुख व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के बयान के बाद उनकी बेटी ने ही उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। अपने पिता रामविलास पासवान के अंगूठा छाप वाले बयान से उनकी बेटी आशा पासवान बेहद नाराज हैं और उन्होंने कहा है कि पापा को माफी मांगनी पड़ेगी, उन्होंने महिला समाज को अपमानित किया है। आशा पासवान ने पासवान को धमकी भी दी है।

आशा पासवान ने शनिवार को कहा कि मेरे पिता को राबड़ी देवी पर दिए गए बयान के मामले में माफी मांगनी होगी। यह बयान महिलाओं को अपमानित करने वाला है। उन्होंने राबड़ी देवी को अंगूठा छाप कहकर सिर्फ उनका नहीं बल्कि पूरे बिहार की महिलाओं का अपमान किया है। अगर रामविलास माफी नहीं मांगते हैं तो मैं अपनी मां के साथ रविवार को लोजपा दफ्तर के बाहर धरने पर बैठूंगी।

पिता के इस बयान के बाद आशा ने कहा कि मैं उनको सबक सिखा दूंगी। मेरे पिता ने सिर्फ एक नहीं बल्कि देश भर की महिलाओं का अपमान किया है। अब मैं उनके खिलाफ एलजेपी कार्यालय के सामने धरना दूंगी और हाजीपुर तक जाकर बताउंगी की अंगूठा छाप क्या होती है? अपने पिता का जिक्र करते हुए आशा ने कहा कि मेरी मां को अंगूठा छाप होने के कारण ही उन्होंने छोड़ा था।

बता दें कि रामविलास पासवान ने शुक्रवार को राबड़ी देवी पर इशारा करते हुए यह कहा था कि कोई भी अनपढ़ (अंगूठाछाप) मुख्यमंत्री बन जाता है। आशा के पति साधु पासवान ने हाल ही में राजद की सदस्यता ग्रहण की है।