परिचय: अर्जित शाश्वत चौबे (सोशल मीडिया पे भागलपुर का पप्पू)

पिता: अश्विनी चौबे (सोशल मीडिया पे बाबा नौटंकी ख़ासकर चुनावी समय पर)

आरोप: मोहन भागवत के संग ठोक रहा था अपनी निजी नज़दीकी सम्बंध, गिना रहा था की भागवत ने मुझे ऐसे सराहा वैसे सराहा

सच्चाई: संघ ने किया प्रेस कोनफ़्रेंस, कहा कौन हैं ई अश्विनी चौबे का बेटा अर्जित, कभी भी मुलाक़ात नही हुई.

 

संघ प्रमुख डॉ. मोहन मधुकर भागवत से भाजपा नेता अर्जित शाश्वत चौबे के मिलने को लेकर आरएसएस ने गंभीरता से लिया है। आरएसएस के जिला प्रचार प्रमुख हरविन्द नारायण भारती ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि संघ प्रमुख से मिलने या मिलाने का किसी भी नेता या मंत्री से कोई कार्यक्रम तय नहीं था। अर्जित शाश्वत चौबे भागवत से नहीं मिले। ऐसे नेताओं का एेसा आचरण दु:खद है। इधर, अर्जित ने बताया है कि संघ प्रमुख भागवत जहां रुके थे, वहीं उनसे मिला था। मालूम हो कि अर्जित ने केदारनाथ त्रासदी एवं पर्यावरण संरक्षण विषय पर लिखी किताब संघ प्रमुख को भेंट करने की बात कही थी। जिला प्रचार प्रमुख भारती के अर्जित के पुस्तक भेंट करने की बात का खंडन करने के बाद अर्जित ने कहा, मुझे किसी पर कटाक्ष या दोषारोपण नहीं करना है। फिर भी अगर संघ के किसी पदाधिकारी को इससे चोट पहुंची है तो हमारी कोशिश होगी कि आगे से ऐसा न हो। हम अपनी वजह से संघ पर किसी भी तरह की बदनामी का छीटा नहीं आने देंगे, हमलोग तीसरी पीढ़ी के स्वयंसेवक हैं।